SIPB: Proceeding of meeting (held on June 26, 2018) for financial clearance
July 4, 2018
 

मुख्यमंत्रीअनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति उद्यमी योजना

 

अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति वर्ग के शिक्षित बेरोजगार युवक-युवतियों को स्वयं का रोजगार स्थापित करने के लिए मुख्यमंत्री अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति उद्यमी योजना संचालित की जा रही है। इस योजना का कार्यान्वयन बिहार स्टार्टअप फंड ट्रस्ट द्वारा की जायेगी |

योजना के अन्तर्गत लाभार्थियों की योग्यता

  1. बिहार के निवासी हो ।
  2. अनूसचित जाति/अनूसचित जनजाति वर्ग के अन्तर्गत हो ।
  3. कम-से-कम 10+2 या इन्टरमीडियट, आई0 टी0 आई0 , पॉलिटेक्निक डिप्लोमा या समकक्ष उतीर्ण हो ।
  4. 18 वर्ष अथवा इससे अधिक उम्र के हो ।
  5. इकाई प्रोपराईटरशीप फर्म, पार्टनरशीप फर्म , LLP अथवा PVT. Ltd. Company के तहत निबंधित हो ।

योजना के अन्तर्गत लाभ

  1. अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति के युवा व युवतियों को उद्योग स्थापना करने एवं बेरोजगारी खत्म करने के लिये 5 लाख का ऋण उन्हें बिना किसी ब्याज के उपलब्ध कराया जाएगा।
  2. इसके साथ ही आवेदकों का चयन किए जाने के बाद उसे परियोजना के लागत का 50 फीसदी तक अनुदान भी दिए जाने का प्रावधान है।
  3. इसके अतिरिक्त सभी लाभुकों के प्रशिक्षण एवं परियोजना अनुश्रवण समिति (PMA ) सहायता के लिए प्रति इकाई रू 25,000 /- (पचीस हजार रुपये) की दर से व्यय किया जायेगा |