Summary Report of SIPB (23 December 2020)
December 28, 2020
बिहार में तीन बहुराष्ट्रीय कंपनियां 886 करोड़ रुपये का निवेश करेंगी
January 7, 2021

Bihar to adopt Champaran model for industrial development: CM

 

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार गुरुवार को नवप्रवर्तन स्टार्टअप जोन का निरीक्षण करने चनपटिया के कृषि बाजार समिति पहुंचे। यहां उन्होंने लॉकडाउन में लौट लोगों की ओर से लगाए गए उद्योग को देखा। इसे देखकर वे गदगद हो गये। मौके पर उन्होंने कहा कि चंपारण की तर्ज पर राज्यभर में उद्योगों का विकास किया जाएगा। यहां बाजार समिति परिसर में सेंटर बनाकर उद्योग लगाए गए हैं, यह बेहतर पहल है। कहा कि मैंने चीफ सेक्रेटरी दीपक कुमार को राज्य के अन्य जिलों में इसी तरह से उद्योग विकसित करने का निर्देश दिया है। अन्य जिलों में भी लोग उद्योग लगाने के लिए इच्छुक हैं, उन्हें चंपारण को मॉडल के रूप में दिखाया जाना चाहिए।

इससे पूर्व मुख्यमंत्री ने बाजार समिति परिसर में लगाए 49 स्टॉल का बारिकी से निरीक्षण किया। एक-एक स्टॉपर पर रुक कर उत्पादों की जानकारी ली। उद्योग लगाने वाले लोगों को उन्होंने प्रोत्साहित किया। कहा कि यह बेहतर पहल है। सरकार की ओर से आपलोगों को जमीन उपलब्ध करायी जाएगी। माल मंगाने और बाहर भेजने में भी सरकार आपकी मदद करेगी। किसी भी तरह की समस्या हो तो सीधे डीएम से मिलिए। वे आपकी हर संभव मदद करेंगे।

सीएम ने कहा कि अब मजबूरी में किसी को भी राज्य से बाहर जाने की जरूरत नहीं है। स्वेच्छा से बाहर जाना उनका अधिकार है। लॉकडाउन में लौटे लोगों को क्वारंटाइन सेंटर में रखा गया था। वहां से उनके स्किल के बारे में पता चला। हमलोगों ने औद्यौगिक नीति में नया प्रावधान जोड़ा है। जो लोग बाहर से आएंगे उनका यहां काम शुरू करने में मदद की जाएगी। कई जगहों पर तो लोगों ने काम शुरू भी कर दिया है। लेकिन चनपटिया आकर मुझे प्रसन्नता हुई। यहां सेंटर बनाकर काम किया जा रहा है। राज्य और देश के बाहर भी तैयार माल भेजा जा रहा है। पश्चिम चंपारण में ठीक ढंग से काम शुरू हो गया है। नई औद्योगिक नीति में प्रावधान किया गया है कि जिन्हें भी जगह की जरूरत होगी, उनको सरकार जगह उपलब्ध कराएगी।

Source: Live Hindustan

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *